Breaking News

जब राजनीति के आड़े आई सीनियर और जूनियर की बात,जमकर हुई तीखी बहस

सपा के पूर्व राज्य मंत्री और भाजपा विधायक में जमकर हुई नोकझोंक

पीलीभीत। जब बात राजनीति की आती है तो रिश्ते नाते सब कुछ भुला दिए जाते हैं, इतना ही नहीं सीनियर जूनियर होने की बात भी धरी रह जाती है। पीलीभीत में भी राजनीति के आड़े आने पर दो नेताओं में जमकर बहस हुई और इस पूरी बहस का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया जिससे अब पीलीभीत की सियासत एक बार फिर गर्म हो गई है।

 

दरअसल मामला पीलीभीत के बीसलपुर तहसील क्षेत्र के गांव मोहलिया का है जहां एक संविदा कर्मचारी की करंट लग जाने से मौत हो गई थी, और परिवार को सांत्वना देने सपा के पूर्व मंत्री हेमराज वर्मा और भाजपा विधायक रामसरन वर्मा पहुंचे थे।मृतक के परिवार को सांत्वना देते देते अचानक दोनों नेताओं में तीखी बहस होने लगी, दरअसल सपा नेता हेमराज वर्मा ने जनता के बीच मौजूद विद्युत विभाग के अधिकारियों से मांग की थी,कि मृतक के परिवारजनों को आर्थिक सहायता दी जाए,सरकार पर भरोसा ना जताने की बात कहते हुए परिवारजनों को लिखित आश्वासन दिए जाने की भी मांग सपा के पूर्व राज्य मंत्री हेमराज वर्मा ने की थी, जिसके बाद भाजपा विधायक ने अपनी सरकार के अधिकारियों को साफ तौर पर दिशा निर्देश दिए गए कि किसी प्रकार के लिखित आश्वासन की बात को स्वीकार नहीं किया जाएगा। देखते ही देखते दोनों नेताओं में इस मुद्दे को लेकर तीखी बहस होने लगी और सत्ता के नशे में चूर भाजपा विधायक रामसरन वर्मा ने सपा के पूर्व राज्यमंत्री हेमराज वर्मा को फालतू बात करने जेल भिजवाने की बात भी कर डाली जिसके बाद सियासत का पारा गर्म हो गया,जब हेमराज ने मोर्चा संभाला तो भाजपा विधायक रामसरन वर्मा ने जूनियर सीनियर की बात कहकर हेमराज को शांत कराने का प्रयास किया पर हेमराज भी सुर में आ गए थे और जनता की मांग राजनीति में बदल चुकी थी हेमराज ने भी भाजपा विधायक को जमकर खरी-खोटी सुनाई।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
[wp_news_ticker_benaceur_short_code]
Close
Close